हार्ड डिस्क क्या है,इसकी पूरी जानकारी और इसके पार्ट

आप ने Hard disk का नाम तो सुना होगा वैसे hard disk को HDD,Hard disk drive भी कहा जाता है। हार्ड डिस्क की टेक्नोलॉजी बहुत अधिक पुरानी है इसके बावजूद hdd (hard disk drive) ज्यादातर कंप्यूटर और लैपटॉप में लग के आती है आज आप को इस पोस्ट में hdd, hard disk के बारे में पूरी जानकारी दूंगा जो आप के बहुत काम आएगी।

Hard%2Bdisk

हार्ड डिस्क क्या है? 

Hard disk drive कंप्यूटर का महत्वपूर्ण डिवाइस होता है। इसमें कम्प्यूटर के डाटा को सुरक्षित किया जाता है यह किसी भी तरह के कंप्यूटर का महतपूर्ण डिवाइस होता है।इसकी स्टोरेज छमता सबसे अधिक होती है। इसको पर्सनल कंप्यूटर या लैपटॉप में लगाया जाता है। इसकी स्टोरेज capicity बहुत अधिक होती है। 
सर्वप्रथम जब हार्ड डिस्क ड्राइव लॉन्च हुई थी तब इसकी storage छमता 5 mb थी आज यह बहुत अधिक छमता वाले स्टोरेज में आती है। हार्ड डिस्क ड्राइव की technology बहुत ओल्ड है फिर भी आज यह कंप्यूटर की सबसे इम्पोर्टेट device वैसे आज के समय में महंगे कंप्यूटर में SSD का उपयोग होने लगा है फिर भी यह सस्ती और अधिक स्टोरेज के कारण आज भी लोगो की पहली पसंद बना हुआ है 

Hard Disk कैसे काम करता है। हार्ड डिस्क के पार्ट 

Hard डिस्क का अविष्कार 14 दिसम्बर 1956 में IBM कंपनी द्वारा introduce किया गया था। जब यह पहली बार लॉन्च हुआ था तब इसका साइज एक बड़े से बक्से की तरह था और इसकी स्टोरेज छमता जान के आप हैरान हो जायेंगे इसकी स्टोरेज छमता सिर्फ 5 mb थी।अब इसके साइज में काफी अंतर आ गया है और यह अब अधिक स्टोरेज में आने लगी है।  इसमें डाटा को सेव करने के लिए magnetism का उपयोग किया जाता है। इसमें एक प्लेटर लगा होता है जिसमे चुम्बकीय परत लगी होती है इसमें डाटा को सुरक्षित किया जाता है। प्लेटर जो की एक गोल प्लेट की तरह होती जब यह घूमती है जिसको RPM (Revulation Per Minut) कहते है। जितनी RPM में घुमेगी उतनी तेज़ी से डाटा को रीड करता है प्लेटर की स्पीड 5400 से 7200 RPM तक स्पिन करती है। किसी किसी कंप्यूटर में इसकी स्पीड 1500 RPM तक भी होती है।  platter को ऊपर एक Actuator arm लगा होता है। जिसके द्वारा डाटा को रीड किया जाता है। यह समझिए की  जिस तरह से ग्रामोफ़ोन होता है उसी तरह से हार्ड डिस्क होता है। हार्ड डिस्क में मूविंग पार्ट लगे होते है जिससे की यह आवाज करती है। और वाइब्रेट भी करता है। 

हार्ड डिस्क के प्रकार 

hard disk चार तरह की होती है

  • PATA (Parallel Advanced Technology Attachment)
  • SATA (Serial Advanced Technology Attachment)
  • SCSI (Small Computer System Interface)
  • SSD (Solid State Drive)

हार्ड डिस्क के नुकसान। 

वैसे हार्ड डिस्क अभी भी लोगो की पहली पसंद बना हुआ है फिर भी इसके बहुत नुकसान होते है। 
हार्ड डिस्क की बूटिंग स्पीड काफी स्लो होती है। अगर यह गिर जाये तो ख़राब भी हो जाता है कभी कभी तो हार्ड डिस्क क्रेश तक हो जाती है

Hard Disk और SSD में अंतर

हार्ड डिस्क और सॉलिड डिस्क ड्राइव दोनो का काम एक ही होता है डाटा स्टोरेज करना पर दोनो डिवाइस में काफी अंतर होता है। चलिए जानते है दोनों में क्या अंतर है। 

Hard diskSSD (Solid State Drive)
Hard disk की price में काफी सस्ती है SSD काफी महंगी होती है। 
Hard Disk का साइज काफी बड़ा होता है इसका साइज कम होता है 
इसकी बूटिंग स्पीड काफी अधिक होती है। इसकी बूटिंग टाइम 10 से 13 सेकंड होता है।  
इसमें ssd की तुलना में अधिक बिजली लगती है यह बिजली की बचत करता है 
यह सस्ती होने के कारण अधिक स्टोरेज में आती है यह महंगी होने के कारण कम स्टोरेज में आती है। 
इसमें मूविंग पार्ट लगे होते हैइसमें माइक्रो चिप लगी होती है। 

आप ने इस पोस्ट में Hard Disk के बारे में पढ़ा । इस पोस्ट में आप को हार्ड डिस्क के बारे में जितना हो सका उतनी अधिक जानकारी दी अगर आप को SSD के बारे में भी अधिक जानकारी लेनी है तो इस पोस्ट में SSD के लिंक पर क्लीक करे। पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए आप को धन्यवाद। 

Related Posts

One thought on “हार्ड डिस्क क्या है,इसकी पूरी जानकारी और इसके पार्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *