Online fraud kya hai/ऑनलाइन फ्रॉड क्या है

Online fraud/ऑनलाइन धोकाधड़ी 

fraud prevention 3188092 960 720
Image source of google

ऑनलाइन फ़्रॉड क्या है।आजकल ऑनलाइन ट्रांजेक्शन बहुत होने लगा है। ऑनलाइन मानी ट्रांजेक्शन ई पेमेंट करते है। बहुत से लोगो के मोबाइल में तरह तरह के ई वॉलेट एप्लीकेशन मिल जायेंगे,पर सावधान हो जाये आप की ऊपर जालसाजों की नजर रहती है। साइबर क्राइम बहुत बढ़ गया है। हैकर्स आप का अकाउंट हैक भी कर सकते है। जालसाज आप के मोबाइल में कॉल कर के केवाईसी के नाम से आप के पूरी लाइफ की जमा पूंजी उड़ा सकते है। और आप को पता तक नही चलेगा। ये सब जालसाजों के लिए कर पाना तब बहुत आसान हो जाता है,जब आप उसके काल का उसे पूरी डिटेल दे देते है। आइये जानते है जालसाजों से कैसे बचा जा सकता है।

सिम स्वाइप।

इस समय बहुत से हैकर आप का सिम की भी कॉपी बना लेते है। आप के पास कॉल कर के सिम से सम्बंधित सभी जानकार जुटा के सिम स्वाइप कर के आप के बैंक अकाउंट से पैसा उड़ा लेते है। कभी भी किसी को सिम से सम्बंधित जानकारी न दे

ओटीपी।

ओटीपी का फुल नाम वन टाइम पासवर्ड होता है। आपके मोबाइल में आये हुए किसी भी तरह की ओटीपी की जानकारी ना दे।

आधार कार्ड।

आपके पास आधार कार्ड के वेरिफिकेशन का कॉल कर के जालसाज आप के अकाउंट की जानकारी ले सकते है।

बैंक डिटेल।

कभी किसी अजनबी को अपना बैंक डिटेल ना दे। न अपना एटीएम की जानकारी दे

अन्य जानकारी।

  • अपने मोबाइल का पासवर्ड बहुत स्ट्रांग बनाये।
  • पब्लिक वई फई का इस्तेमाल न करे।
  • अपने पीसी में एक अच्छा एंटीवायरस का इस्तेमाल करे।कभी फ्री एंटीवायरस का इस्तेमाल न करे।
  • पेमेंट हो जाने के बाद अकाउंट लॉग आउट जरूर करे।
  • किसी दूसरे के मोबाइल से कभी अपने अकाउंट एटीम डिटेल न डाले।
  • अपने ईमेल आईडी का पासवर्ड न शेयर करे ।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *